सरकार गठन में देरी पर बोले अजीत पवार- अकेले नहीं ले सकते फैसला, कांग्रेस के जवाब का अभी भी इंतजार | Maharashtra government formation: ajit pawar says waiting for congress reply

News


India

oi-Kamal Kumar

|

मुंबई। महाराष्ट्र में सरकार बनाने को लेकर पेंच अभी भी फंसा हुआ है। राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी ने बीजेपी और शिवेसना के बाद तीसरे बड़े दल के रूप में शरद पवार की पार्टी एनसीपी को सरकार बनाने का न्योता दिया है। इसके बाद से राजनीतिक हलचल और भी बढ़ी हुई है। मंगलवार को अजीत पवार एनसीपी प्रमुख शरद पवार से मिलने उनके आवास पर पहुंचे थे। इस दौरान मीडिया के सवालों का जवाब देते हुए अजीत पवार ने कहा कि अभी भी कांग्रेस के जवाब का इंतजार है।

Maharashtra government formation: ajit pawar says waiting for congress reply

सरकार गठन में देरी के सवाल पर अजीत पवार ने कहा कि दिल्ली में जो भी फैसला होगा दोनों दलों की सहमति से लिया जाएगा। उन्होंने कहा कि हम दोनों साथ मिलकर चुनाव लड़े थे। अजीत पवार ने कहा कि कल हम कांग्रेस की तरफ से जवाब का इंतजार करते रहे, लेकिन हमें कोई जवाब नहीं मिला। हम अकेले कोई फैसला नहीं ले सकते हैं। एनसीपी नेता ने कहा कि हमारे बीच किसी तरह का मतभेद नहीं है, हम साथ चुनाव लड़े थे और साथ हैं।

वहीं, शरद पवार से जब पूछा गया कि क्या आज कांग्रेस-एनसीपी के बीच कोई बैठक पूर्व निर्धारित है, इसपर उन्होंने कहा, ‘मुझे इसकी कोई जानकारी नहीं।’ शरद पवार शिवसेना नेता संजय राउत से मिलने लीलावती अस्पताल पहुंचे थे। राउत को सीने में तकलीफ के बाद अस्पताल में भर्ती कराया गया था। इसके पहले, संख्याबल ना होने का हवाला देते हुए बीजेपी ने सरकार बनाने से इनकार कर दिया था।

फिलहाल, कांग्रेस-एनसीपी के फैसले पर शिवसेना की सारी उम्मीदें टिकी हैं। वहीं, राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी ने एनसीपी को भी सरकार बनाने का न्योता दिया है, जिसके कारण राजनीतिक उठापटक और तेज होती दिखाई दे रही है। बीजेपी से खींचतान के बाद शिवसेना की एनसीपी-कांग्रेस के साथ मिलकर सरकार बनाने की कोशिशें जारी हैं। लेकिन शिवसेना को समर्थन देने पर एनसीपी और कांग्रेस की तरफ से अभी तक कोई फैसला नहीं हो सका है। इस बीच महाराष्ट्र में बैठकों का दौर जारी है।

जीवनसंगी की तलाश है? भारत मैट्रिमोनी पर रजिस्टर करें – निःशुल्क रजिस्ट्रेशन!





Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *