गिरती GDP पर बोले बीजेपी सांसद, जीडीपी कोई बाइबल, रामायण या महाभारत नहीं है | BJP’s MP Nishikant Dubey says GDP Not Bible Or Mahabharat, Won’t Be Important In Future

News


BJP MP Nishikant Dubey said on GDP- This is not Bible, Ramayana or Mahabharata । वनइंडिया हिंदी

बीजेपी सांसद ने कहा,सिर्फ जीडीपी को बाइबल, रामायण और महाभारत मान लेना सत्य नहीं है

बीजेपी सांसद ने कहा,सिर्फ जीडीपी को बाइबल, रामायण और महाभारत मान लेना सत्य नहीं है

बीजेपी सांसद ने कहा, ‘जीडीपी 1934 में आया। इससे पहले कोई जीडीपी नहीं था। सिर्फ जीडीपी को बाइबल, रामायण और महाभारत मान लेना सत्य नहीं है। और भविष्य में भी जीडीपी का कोई बहुत ज्यादा उपयोग नहीं होगा।’ निशिकांत दुबे इतने पर ही नहीं रुके, उन्होंने आगे कहा कि आज की नई थ्योरी है कि सस्टेनेबल इकोनोमिक वेलफेयर आम आदमी का हो रहा है कि नहीं हो रहा। GDP से ज्यादा जरूरी है कि सस्टेनेबल डेवलपमेंट, हैपिनेस हो रहा है की नहीं।

प्रज्ञा ठाकुर के विवादित बयान का भी उन्होंने बचाव किया था

प्रज्ञा ठाकुर के विवादित बयान का भी उन्होंने बचाव किया था

उन्होंने कहा कि आज नई थ्योरी है आम आदमी का स्थायी आर्थिक कल्याण, हो रहा है या फिर नहीं हो रहा है। जीडीपी से ज्यादा महत्वपूर्ण है लोगों का सतत विकास। लोगों को खुशी मिल रही है या नहीं मिल रही है। निशिकांत दुबे के बयान पर सदन में जमकर हंगामा हुआ, निशिकांत दुबे पहले भी चर्चाओं में रह चुके हैं। इससे पहले सांसद निशिकांत दुबे कार्यकर्ता से पांव धुलवाने के मामले में विवादों में घिर गए थे। वहीं हाल ही प्रज्ञा ठाकुर के विवादित बयान का भी उन्होंने बचाव किया था।

टिप्पणी पर विपक्ष दलों ने साधा निशाना

शिवसेना सांसद अरविंद सांवत ने कहा कि जीडीपी जब 4.5 पर आ गई तो पूरी हलचल मच गई। 2013 के बाद पहली बार इतना नीचे गई। अब इतनी नीचे जाने के बाद निशिकांत दुबे से मैंने नई बात सुनी। मुझे कमाल लगा कि वक्त बदल जाने पर आदमी भी बदल जाते हैं। लेकिन हम नहीं बदले हैं। जो अच्छा है उसे अच्छा कहेंगे और जो बुरा है उसे बुरा कहेंगे। वहीं जीडीपी पर चर्चा के दौरान टीएमसी की सांसद महुआ मोइत्रा ने कहा कि, आपके द्वारा प्रस्तावित किए गए (कॉर्पोरेट) कर में कटौती केवल लाभकारी को अधिक लाभदायक बनने में मदद करेगा। वहीं अर्थव्यवस्था के एक बहुत बड़े हिस्से को पुनर्जीवित करने के लिए कुछ भी नहीं किया गया जो संघर्ष कर रहा है।





Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *